Togadia Garment Stores

Miss Lekhi skirts it, but khaaki chaddi shows,
She says, these days, out of proportion, everything blouse,

Modi says sari, it’s just a petty quote,
This is my brief, focus on the vote,

In me, not Giriraj, all the powers you will vest,
I am the one with certified 56″ chest,

I sew up the sleeve, up which is that old trick,
Get me some thread, tear the social fabric,

Press the button, zip up, let the wave not relent,
Shirt laga lo, we will form the next garment.

Advertisements

‘साहेब’ दूल्हा बने हैं, चलो स्वागत करें

‘साहेब’ दूल्हा बने हैं, चलो स्वागत करें
पर दिल कहता है कि चल बगावत करें

घर घर है हर हर, कहते हैं कि लहर है

पर जरूरी है क्या हम इबादत करें
कभी भूले भटके तुम हमसे मिलो
क्यूँ हम ही तेरे घर के जियारत करें

एक अरसा हुआ, उनको देखे हुए
ख्वाब में ही सही, उनको सूरत करें

हमपे नजरे करम वो करें ना करें
हमरे दिल ही पे कोई इनायत करें

किसने कहा था ‘आप’ मुहब्बत करें
कर ही लिया तो क्या शिकायत करें

तुमसे ना होगा मेरी जान, रहने दो

बहुत हुआ गुणगान बखान, रहने दो
फलां मॉडल, फलां प्लान, रहने दो!

जन्नत के बदले जमीर का सौदा है
जन्नत के साजो सामान, रहने दो

इन्तखाब में इंतकाम की बात ही क्यूँ
क्या सम्मान, क्या अपमान, रहने दो

दिल काला तो चिट्टी दाढ़ी झूठी है
क्या बाँचो गीता, कुरआन, रहने दो

सपने बेचो, डर बेचो, और क्या बेचो
तुम चाहो बेचो ईमान, रहने दो

भाई भाई के बीच में खाई खोद रहे
रहनुमाई ऐ भाई जान, रहने दो

मिट्टी का है घर अपना और तिस पर
बारिश के भी हैं इमकान, रहने दो

है जमीन पर कब्जा तो तुम ही रखो,
हमरे हिस्से का असमान, रहने दो

हिन्दू, मुस्लिम, सिख, इसाई, ऐ भाई
निरे उल्लू हैं, पर, इंसान रहने दो!

जान के लाले पड़े इश्क के चक्कर में
मत पड़ो ऐ लाले दी जान, रहने दो