Big Boss: Alag 6

सबको यहाँ से जाना है, ये तो दयार-ए-अकबर है,
कल तेरी बारी आएगी, जो आज हमारा नम्बर है!

1.
अहल-ए-सना के कितने अना, तारीखों में लिखे हैं,
आले होना एक बात है, पास-ए-सऊर दीगर है!

2.
घर की ज़ीनत परदे से, निकल के आई परदे पर,
अकल ही पर परदा है, शकल तो बाकी सुन्दर है!

3.
कुदरत का ही करिश्मा है, या तो कोई सपना है,
उनकी जुल्फें बिखरी हैं, सिर उनके शानों पर है!

4.
स्वयंसिद्ध है, सच है ये, सब को साधना मुश्किल है
कभी नौ जोत जलाने निकलो, जल जाता पूरा घर है!

5.
तुलसी तेरे आँगन में, ऐसे भी हैं लोग बहुत,
राम का नाम मुंह पर है, और बगल में नश्तर है!

6.
शब भर रोए तनहा हम, तेरी याद के साए में,
सिलवटें तुमने बख्शी हैं, वैसे मेरा बिस्तर है!
Extra Shot________________
पत्थरदिल की इबादत से काकिसि हमने सीखा है,
ना मानो तो कंकर है, जो मानो तो शंकर है!

_______________________________________________________________

दयार-ए-अकबर: सबसे बड़े का घर, Big Boss’ House
सना: प्रतिभा, brilliance, also a contestant’s name
अना: किस्से, anecdotes
आले: औज़ार, tools
तारीख: History
पास-ए-सऊर: तरीका, knowledge of usage
दीगर: दूसरा, different
नौ जोत: नई ज्योति, new flames
बख्शी: दिया हुआ, gifted, also Ashika’s boyfriend for whom she cries buckets

Advertisements

Say something!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s